नई दिल्ली : 2019 लोकसभा चुनाव दो चरण का मतदान हो चुका। तिसरे चरण चुनाव 23 अप्रैल को है। चुनाव सुधार के लिए काम करने वाली गैर सरकारी संगठन एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) ने लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण से पहले चुनाव लड़ रहे 1612 में से 1594 प्रत्याशियों के हलफनामों का विश्लेषण किया है। एडीआर ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि तीसरे चरण में 14 राज्यों की 116 सीटों पर 340 यानी 21 फीसदी दागी उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें 230 प्रत्याशी ऐसे हैं जो किसी न किसी गंभीर अपराध के आरोपी हैं। 29 के खिलाफ महिलाओं से जुड़े अपराध के मामले दर्ज हैं। 14 ने अपने हलफनामे में यह घोषित किया है कि वे आपराधिक मामलों में दोषी पाये जा चुके हैं। 13 उम्मीदवार ऐसे हैं जिनके खिलाफ हत्या का मुकदमा चल रहा है। 30 उम्मीदवारों पर हत्या के प्रयास का आरोप है।