न्यू यॉर्क : वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अमेरिका में निवेशकों के साथ भारत के आर्थिक सुधारों और भविष्य के आर्थिक परिदृश्य पर बातचीत की। न्यू यॉर्क में भारतीय महावाणिज्य दूतावास ने बुधवार को ट्वीट में कहा कि जेटली ने न्यू यॉर्क में निवेशकों के साथ भारत के आर्थिक सुधारों और भविष्य के लिए आर्थिक परिदृश्य पर कई दौर की गोलमेज चर्चा की। निवेशकों का रुख भारत को लेकर आशावादी है।

जेटली अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष-विश्वबैंक की बैठकों में भाग लेने के लिए अमेरिका आये हैं। उन्होंने उद्योग मंडल फिक्की, भारतीय वाणिज्य दूतावास और अमेरिका-भारत रणनीतिक फोरम द्वारा आयोजित सत्र में निवेशकों को संबोधित किया। फिक्की ने ट्वीट कर बताया कि वित्त मंत्री ने कहा कि जब हम सुधार करते हैं, तो हमें यह तय करना होगा कि कतार में खड़े अंतिम व्यक्ति तक लाभ को पहुंचाया जा सके।

इस आयोजन में मास्टरकार्ड के सीईओ अजय बंगा समेत कारोबारी दिग्गज और निवेशक शामिल हुए। फिक्की के एक ट्वीट के अनुसार, जेटली ने कहा कि सामाजिक सुधारों को लेकर कई प्रयास किये गये हैं। इनमें सभी के लिए बैंक खाते, 99 फीसदी आबादी की शौचालय तक पहुंच, ग्रामीण क्षेत्रों में सड़क संपर्क, सभी के लिए घर शामिल हैं।
उन्होंने कहा कि अगले पांच साल में गरीबी कम करने, बेहतर बुनियादी ढांचा प्रदान करने, पलायन के प्रबंधन के लिए नये शहर और महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने पर ध्यान होगा। इससे पहले जेटली ने अमेरिका-भारत व्यापार परिषद (यूएसआईबीसी), उद्योग मंडल सीआईआई तथा अमेरिकी शेयर बाजार कंपनी नैसडेक द्वारा ‘भारत के सुधार एवं आर्थिक परिदृश्य’ विषय पर आयोजित गोलमेज चर्चा को संबोधित किया।