श्रीनगर : राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) बुधवार को नई दिल्ली में जेकेएलएफ प्रमुख यासीन मलिक से कथित अवैध धन मामले में पूछताछ करेगी।

जांच एजेंसी ने श्री मलिक को दिल्ली में एनआईए अदालत के समक्ष सुबह अलगाववादी के 2017 के एक कथित अवैध धन मामले में पूछताछ के लिए औपचारिक हिरासत आदेश के लिए पेश किया। इस मामले में कम से कम सात अलगाववादी नेताओं को गिरफ्तार किया गया है।

श्री मलिक, जिनकी पार्टी जेकेएलएफ को 22 मार्च को आतंकवाद विरोधी कानून की धारा 3 के तहत प्रतिबंधित कर दिया गया था, को मंगलवार की शाम जम्मू की कोट बलवाल जेल से तिहाड़ जेल में स्थानांतरित कर दिया गया। इसके बाद एनआईए अदालत ने अलगाववादी नेता के खिलाफ वारंट जारी किया।

श्री मलिक को 7 मार्च को सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम के तहत बुक किया गया था और श्रीनगर से जम्मू की जेल में स्थानांतरित कर दिया गया था। इससे पहले, अलगाववादी नेता को पुलवामा हमले के एक हफ्ते बाद 22 फरवरी को उनके मैसूमा निवास से गिरफ्तार किया गया था।